समाज के लिए बेटियां साबित हो रही वरदान

0

Beti Bachao Beti Padhao Raigarh News

घर की चहल पहल है बेटी, जीवन में खिला कमल है बेटी

कभी धुप गुनगुना सुहानी, कभी चंदा शीतल है बेटी

शिक्षा गुण संस्कार रोप दो, फिर बेटों की सबल है बेटी

सहारा दो गर विश्वास का, तो पावन गंगाजल है बेटी

प्रकृति के सद्गुण खींचो तो, प्रकृति सी निश्छल है बेटी

इसी सुनहरे उद्देश्य को साथ लेकर 3 अगस्त शनिवार को प्रातः सुबह 10 बजे सरिया (बरमकेला) में हजारों की संख्या में स्कूली छात्र-छात्राओं ने बेटी-बचाओ, बेटी-पढ़ाओ अभियान के तहत रैली निकालकर लोगों को यही सन्देश दिए.

स्वास्थ्य विभाग एवं शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित इस रैली में वी.एम.ओ. डॉ. अवधेश पाणिग्राही शामिल थे. उन्होंने कहा कि बेटी हमारे समाज के लिए सबसे बड़ा वरदान है. बेटी-बचाओ, बेटी-पढ़ाओ योजना में महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, शिक्षा मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय जैसे अन्य मंत्रालयों के साथ मिलकर काम कर रही है.

यह योजना न सिर्फ लड़कियां बल्कि पूरे समाज के लिए वरदान साबित हो रही हैं. उन्होंने कहा कि रायगढ़ जिले में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान में उत्कृष्ट कार्य करने पर जिला को राष्ट्रीय पुरुस्कार से सम्मानित किया गया है. जिसमें पूरे जिले के नागरिकों एवं तथा प्रशासन का सहयोग रहा है.

यह भी जरूर पढ़ें : साहसी बालक मा.प्रशांत सिदार “जीवन रक्षक उत्तम पदक” से होगा सम्मानित

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here