जर्जर स्कूलों में भविष्य गढ रहे हैं नौनिहाल , दावों की खुल रही पोल

0

Kharsia Ki Taza Khabar

खरसिया : खरसिया विकास खंड शहरी क्षेत्र के दर्जनों स्कूल का भवन पूरी तरह से जर्जर हो चुका है कक्षाओं में बरसात का पानी टपक रहा है , जो सरकारी स्कूलों के शिक्षक के दावों की पोल खोल रही है , स्कूलों में पानी टपकने के कारण सिर्फ बच्चों की पढ़ाई लिखाई बाधित हो रहीं है बल्कि बच्चो के भविष्य से भी खिलवाड़ जैसा ही हैं | खरसिया के वर्षो पुराने स्कूल आदर्श प्राथमिक एवं माध्यमिक शाला मगनलाल दाजी भाई पटेल बाल मंदिर , नवीन पूर्व माध्यमिक शाला खरसिया शाला शा. प्राथमिक शाला गंज पीछे सहित खरसिया नगर के दर्जनों स्कूलों की हालत इतनी खराब है कि बरसात में बच्चों की बैठने की व्यवस्था नहीं है तो कहीं छोटे-छोटे मासूम बच्चे अपनी जान जोखिम में डालकर स्कूलों में पढ़ने जा रहें हैं |

पूर्व हो चुके है हादसे

बालमंदिर स्कूल की छत पिछले वर्ष गिर जाने से 2-3 स्कूली बच्चे घायल हो गये थे | इसके बाद बालमंदिर स्कूल को जर्जर घोषित करते हुए नए भवन निर्माण के लिए टेंडर भी किया गया था ,जबकि वैकल्पिक व्यवस्था के लिए नगरपालिका के वर्तमान शंकराचार्य स्कूल के कब्जे के भवन में से 2 कमरा वैकल्पिक व्यवस्था के तहत देने के निर्देश के बावजूद शंकराचार्य स्कूल प्रबंधन द्वारा जबरन कब्जा करके रखा गया है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here